????????????????WAKEUPINDIA ????????. ☕️चाय या मौत का प्याला ☕️☠️ ????????खुद जान लिए

17

????THEPOWEROFPURE ????. ????शुध के लिए युध????

मान लो मेरी राय,
इश्क से बेहतर है चाय ☕

कथन था “हट के हैं ”
प्रमाण है कोई आस पास नही

चाय की मार्किट की बात की जाए तो विश्व मे चाय के उत्पादन के मामले भारत चीन के बाद दूसरे नम्बर पर है , विश्व की 27 प्रतिशत चाय की खपत अकेले भारत मे ही हो जाता है, पर अपनी अधिकांश , अच्छे दर्जे की चाय को यह निर्यात कर देता है , फिर सवाल है कि हम क्या पी रहे है तो मेरा नही बहुत सी केस स्टडी , और संस्थानों की रिसर्च रिपोर्ट है “चाय के नाम पर मीठा ज़हर” मीठा ज़हर इस कारण वश कहा क्योंकि आज चाय के नाम पर मिलने वाले चाय पत्ती के कचरे में मीले सेकड़ो प्रकार के हानिकारक केमिकल तुरंत मौत तो नही देते पर धीरे धीरे मौत का कारक बनने वाली बीमारियों की शुरुवात ज़रूर देते है , आप बीमार है डॉक्टर के पास जाओ तो गेस से बचने के उपाय में सबसे पहले उसकी अड़वाईज़ भी चाय के त्याग की होगी , 5000 सालो से चली आ रही चाय अचानक ज़हरीली कैसे , जवाब है डॉक्टर को चाय से नही चाय के रूप में जाने वाले हानिकारक केमिकल से परहेज़ है , पहली बार, आज तक के इतिहास में #Darjuv9 ने शुरुवात की है इस इंडस्ट्रीज में क्रांति की ,वो भी मौखिक नही लेब रिपोर्ट के साथ , के हमारे द्वारा दी जाने वाली चाय न सिर्फ , और मिलने वाली #चाय से उत्तम है , बल्कि शत-प्रतिशत केमिकल रहित ।

तो ऊपर की लिखी लाइन को बदलना ही पड़ेगा

मान लो मेरी राय,
सब चाय से बेहतर है #darjuv9 की #CTC चाय

Mor Info -9872722161

Karan Kaushal
Neuroscience consultant & certified Nutritionist & national parmoter chemical free india mission ????????

Gurbhej Singh Anandpuri
Author: Gurbhej Singh Anandpuri

ਮੁੱਖ ਸੰਪਾਦਕ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

FOLLOW US

TRENDING NEWS

Advertisement

GOLD & SILVER PRICE

× How can I help you?